टेस्ला में एलन मस्क की कुर्सी खतरे में, जानिए कौन बन सकता है उनकी जगह CEO

नई दिल्ली: इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली अमेरिका की दिग्गज कंपनी टेस्ला (Tesla) के शेयरों में पिछले साल करीब 70 फीसदी गिरावट आई थी। कंपनी ने पिछले साल रेकॉर्ड 13 लाख कारें डिलीवर की थीं लेकिन यह बाजार के अनुमान से कहीं कम है। यही वही है कि कंपनी को लेकर कई तरह की अटकलों का दौर शुरू हो गया है। इस बीच चीन में कंपनी के प्रमुख टॉम झू (Tom Zhu) को बड़ा प्रमोशन दिया गया है। उन्हें अमेरिका में टेस्ला के एसेंबली प्लांट्स के साथ-साथ नॉर्थ अमेरिका और यूरोप में सेल्स की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है। अब केवल बर्लिन की गीगाफैक्ट्री ही उनकी जिम्मेदारी से बाहर रह गई है। चीन में पैदा हुआ झू को टेस्ला के सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) का उत्तराधिकारी माना जा रहा है। उन्हें ऐसे समय प्रमोशन दिया गया है जब ट्विटर (Twitter) के अधिग्रहण के बाद टेस्ला के लिए मस्क की प्रतिबद्धता सवालों के घेरे में है।

टेस्ला में मस्क के बाद झू सबसे बड़े अधिकारी हैं। चीन में कंपनी को कोविड लॉकडाउन के दौर में सफलतापूर्वक चलाने का श्रेय उन्हीं को जाता है। टेस्ला के लिए चीन सबसे बड़ा बाजार है। झू साल 2014 में टेस्ला से जुड़े थे। उन्हें काफी मेहनती माना जाता है। साल 2019 में उन्होंने अपने Weibo अकाउंट में एक पोस्ट लिखा था, ‘मैं बहुत सोना चाहता हूं लेकिन मुझे काम से फुर्सत ही नहीं मिलती है।’ टेस्ला को जॉइन करने के बाद वह सार्वजनिक तौर पर कम ही दिखी है। उनकी उम्र और पर्सनल लाइफ के बारे में भी ज्यादा जानकारी नहीं है।

18 घंटे काम

झू के सोशल मीडिया प्रोफाइल के मुताबिक वह चीन में पैदा हुए थे लेकिन यह साफ नहीं है कि उनके पास चीन की नागरिकता है या नहीं। उन्होंने 2004 में ऑकलैंड यूनिविर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी से बैचरल की डिग्री ली थी और फिर ड्यूक यूनिवर्सिटी के The Fuqua School of Business से एमबीए की डिग्री ली। 2021 में एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि वह ओपन ऑफिस से काम कर रहे हैं और उन्हें पास नाश्ता करने का भी समय नहीं है। उनका कहना था कि एफिशियंसी और प्रैगमैटिज्म उनकी कंपनी का स्टाइल है। यानी झू काम के मामले में मस्क से कम नहीं हैं।

झू ने एक इंटरव्यू में बताया था कि वह किराए के घर में रहते हैं जिसका किराया 290 डॉलर से भी कम है। इसकी वजह यह है कि यह शंघाई में टेस्ला की फैक्ट्री के करीब है। यह नहीं उनके पास खुद की कार नहीं है। वह दोस्तों के साथ कार पूल करके ऑफिस जाते हैं। अमूमन झू सुबह छह बजे काम शुरू कर देते हैं और आधी रात तक ऑफिस में ही रहते हैं। साल 2019 में जब टेस्ला का शंघाई प्लांट टाइफून के कारण प्रभावित हुआ था तो झू और कंपनी के कर्मचारियों ने खुद बाल्टियां भरकर पानी निकाला था।

क्यों मिला प्रमोशन

चीन में टेस्ला के शानदार प्रदर्शन के बाद झू को प्रमोशन दिया गया है। साल 2014 के बाद टेस्ला ने दुनिया के सबसे बड़े कार बाजार चीन में तेजी से अपना कारोबार फैलाया है। 2019 में चीन में कंपनी की फैक्ट्री मात्र दस महीने में बनकर तैयार हो गई थी और इसकी लागत अमेरिका में कंपनी के प्लांट की तुलना में 65 फीसदी कम थी। कुछ ही साल में यह दुनिया में सबसे बड़ा ईवी प्रॉडक्शन प्लांट बन गया। 2021 में टेस्ला ने दुनियाभर में 9.36 लाख गाड़िया डिलीवर कीं। इनमें से आधी से अधिक चाइना प्लांट से निकली थीं।