चुनाव आयोग ने रिजल्ट ही पलट दिया… नवाज शरीफ और उनकी बेटी की जीत को लाहौर हाईकोर्ट में चुनौती

इस्लामाबाद: पूर्व प्रधानमंत्री और उनकी बेटी मरियम नवाज की इलेक्शन में जीत को चुनौती देते हुए लाहौर हाईकोर्ट में अर्जी दायर की गई है। शनिवार को कोर्ट में दी गई याचिका में कहा गया है कि चुनाव आयोग ने तय प्रक्रिया के खिलाफ जाते हुए पीएमएलएन नेता नवाज शरीफ और मरियम नवाज को लाहौर की नेशनल असेंबली की सीटों पर विजेता घोषित किया है। पीटीआई समर्थित उम्मीदवारों ने दावा किया कि पाकिस्तान चुनाव आयोग ने उन्हें फॉर्म-45 की बजाय फॉर्म-47 का इस्तेमाल कर हराया गया है। ऐसे में दोनों सीटों पर चुनाव को रद्द किया जाना चाहिए। फॉर्म 45 को गिनती के नतीजों का फॉर्म कहा जाता है, ये पाकिस्तानी चुनावी प्रक्रिया में एक महत्वपूर्ण रिकॉर्ड है। मतदान केंद्र से इसी फॉर्म पर नतीजा जारी किया जाता है। इसका उद्देश्य मतदान केंद्र पर मतदान प्रक्रिया के परिणामों का दस्तावेजीकरण और जवाबदेही को बनाए रखना है।लाहौर की एनए-130 सीट पर नवाज शरीफ ने पीटीआई समर्थित यास्मीन राशिद के खिलाफ 1,72,000 से अधिक वोट हासिल करके जीत हासिल की है। दूसरे नंबर पर रही यास्मीन को करीब 1,13,000 वोट मिले। शरीफ की बेटी मरियम नवाज ने एनए-119 सीट पर पीटीआई समर्थित फारूक शहजाद को करीब 15 हजार वोटों से हराया है। लाहौर हाईकोर्ट पहुंचे याचिकाकर्ताओं में से एक यास्मीन का दावा है कि उन्होंने फॉर्म-45 के अनुसार उनको जीत मिली लेकिन चुनाव आयोग (ईसीपी) ने फॉर्म-47 जारी करते हुए नवाज शरीफ को विजेता घोषित कर दिया। मरियम के खिलाफ लड़े फारूक शहजाद का कहना है कि फॉर्म-45 पर जारी मतदान केंद्र के नतीजों में पीएमएलएन की मरियम हार गईं लेकिन फर्जी फॉर्म-47 जारी कर नतीजा पलट दिया गया। महमूद कुरैशी की बेटी भी पहुंचीं कोर्टइमरान खान के साथ जेल में बंद पूर्व विदेश मंत्री शाह महमूद कुरेशी की बेटी शाहर बानो ने भी इसी तरह की धांधली के आरोप चुनाव नतीजों में लगाए हैं और अपनी हार को कोर्ट में चुनौती दी है। पीटीआई नेता उमर अयूब खान ने कहा है कि उनकी पार्टी को देशभर मे भारी समर्थन मिला है लेकिन चुनाव आयोग अब धांधली करने में लगा है। उन्होंने कहा कि ईमानदारी से गिनती हो तो उनकी पार्टी को 170 से भी ज्यादा सीटें मिलेंगी। उन्होंने सभी पार्टी उम्मीदवारों और पोलिंग एजेंटों को फॉर्म-45 इकट्ठा करने और नतीजों में धांधली को चुनौती देने के लिए अदालतों का दरवाजा खटखटाने के लिए कहा है।पीटीई ने हम्माद अजहर ने कहा, सच्चाई ये है कि नवाज शरीफ और परिवार के सभी सदस्यों को चुनाव में भारी हार का सामना करना पड़ा है। सभी अपना चुनाव हार चुके थे, सभी को बाद में गलत तरह से जिताया गया है। हमारे पास धांधली के सभी सबूत हैं और कई हारने वाले उम्मीदवार अदालतों का दरवाजा खटखटा रहे हैं। हमें उम्मीद है कि अदालतें हमारी याचिकाओं पर विचार करेंगी और हमें कम से कम 50 सीटें और मिलेंगी।