गुना में बुजुर्ग ने जहर खाकर की आत्महत्या, सड़क पर उतरे परिजन

गुना, 24 मई :मध्य प्रदेश के गुना जिले में एक बुजुर्ग ने शुक्रवार को जहर खाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या की वजह दो लोगों द्वारा उधार में लिए गए पैसे वापस नहीं करना बताया जा रहा है। परिजनों ने आरोपियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया।
 
 
जानकारी के अनुसार बजरंगगढ़ इलाके में चिंताहरण नामक एक बुजुर्ग ने शुक्रवार को जहर खा लिया। उसे गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों के मुताबिक सुबह के समय चिंताहरण को चाय भेजी गई तो वह बार-बार पानी पी रहे थे और चाय पीने से मना करते हुए बताया कि उन्होंने सल्फास खा ली है।
 
 
 
परिजनों का कहना है कि दो लोग उसे लगातार प्रताड़ित कर रहे थे। दोनों लोगों ने उधार ले रखे थे और उधार में ली गई रकम वापस करने के लिए तैयार नहीं थे।
 
 
 
मृतक बुजुर्ग चिंताहरण के दो बेटा और बेटी हैं, जिनकी शादी हो चुकी है। बुजुर्ग की मौत से गुस्साए परिजनों ने शव को पुराने बस स्टैंड तिराहे पर ले जाकर जाम लगा दिया। मौके पर पुलिस पहुंची और उन्होंने परिजनों को समझाया। उसके बाद चक्का जाम खत्म हुआ। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है।
 
 
 
मृतक के परिजनों ने बताया है कि लगभग आठ माह पहले एक व्यक्ति ने उनसे 50 हजार रुपए दो माह के लिए उधार लिए थे। उस व्यक्ति से चिंताहरण ने जब पैसे मांगे तो उसने रकम लौटाने से इनकार कर दिया और उसे गुमराह भी किया। साथ ही धमकाया और कहा कि पैसे वापस नहीं करूंगा।
 
 
 
परिजनों के मुताबिक जिस व्यक्ति ने उधार पैसे लिए थे। वह आपराधिक प्रवृत्ति का है। एक बार जब चिंताहरण अपने बेटे के साथ रकम मांगने गए तो उधार लेने वाले व्यक्ति ने धमकाते हुए भगा दिया था। उसके बाद से चिंताहरण परेशान था।
 
 
 
वन विभाग की नौकरी से सेवानिवृत्त होने के बाद उसे 85 हजार रुपए मिले थे, उसी रकम में से उसने 50 हजार रुपए उधार दिए थे। उधार में दी गई रकम के वापस नहीं मिलने से चिंताहरण परेशान था और उसने आत्महत्या जैसा कदम उठाया।
 
The post गुना में बुजुर्ग ने जहर खाकर की आत्महत्या, सड़क पर उतरे परिजन appeared first on Daily Hindi News.