ड्रग्स देश की सुरक्षा और भविष्य का दुश्मन है, कर्नाटक में बोले अमित शाह

सहकार समृद्धि सौध के शिलान्यास समारोह और सहकारिता विभाग (कर्नाटक) के विभिन्न विकास कार्यों के उद्घाटन के अवसर पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आज इस सम्मेलन के दौरान 8 विभिन्न स्थानों पर 1,235 करोड़ रुपये मूल्य की 9,298 किलोग्राम ड्रग्स नष्ट की गई। पिछले नौ माह में 5.94 लाख किलोग्राम नशीला पदार्थ नष्ट किया गया। यह नशा मुक्त भारत हासिल करने के लिए मोदी सरकार की अटूट प्रतिबद्धता को दर्शाता है। नरेंद्र मोदी ने एमएचए अमृत काल में नशीले पदार्थों के खतरे को खत्म करने के लिए युद्ध स्तर पर काम कर रहा है जैसा कि पीएम ने कल्पना की थी। इसे भी पढ़ें: शहजादा नवाब बनना चाहता है, राहुल गांधी पर बीजेपी का करारा वार, कहा- मीर जाफर ने जो किया वही राहुल गांधी कर रहे हैंदक्षिणी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के लिए नशीले पदार्थों की तस्करी और राष्ट्रीय सुरक्षा पर आज आयोजित क्षेत्रीय सम्मेलन ने इस लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए गहन विचार-विमर्श किया। ड्रग्स के खिलाफ लड़ाई सिर्फ किसी एक सरकार की लड़ाई नहीं जन-जन की लड़ाई है। ड्रग्स देश की सुरक्षा और भविष्य का दुश्मन है…मोदी जी के मार्गदर्शन में गृह मंत्रालय इसके समूल नाश के लिए संकल्पित है। गृह मंत्रालय ड्रग्स के मामलों में Bottom to Top और Top to Bottom का एप्रोच अपना रहा है। ड्रग्स के खतरे को जड़ से समाप्त करने के लिए अन्य राज्य व संस्थाएं भी यही एप्रोच अपनाएं। देश से ड्रग्स को ख़त्म करने के लिए मोदी सरकार के अभियान के चार प्रमुख स्तंभ हैं कि ड्रग्स की खोज, नेटवर्क का खात्मा, दोषियों का खात्मा, नशा करने वालों का पुनर्वास।