दिल्‍ली से वैष्णो देवी की यात्रा सिर्फ ₹1100 में! मेसेज आए तो ललचा मत जाना, लुट जाएंगे आप

नई दिल्ली: लुभावने ऑफर देकर ही जालसाज इन दिनों सबसे ज्यादा ठगी की वारदात को अंजाम दे रहे हैं। हाल ही में जालसाज ने एक महिला के फेसबुक पर मेसेज कर कहा कि वह 1100 रुपये में वैष्णो देवी व दरबार साहिब (गोल्डन टेंपल) के दर्शन करवाएगा। महिला खुद तो आरोपी के झांसे में आईं हीं, साथ ही उन्होंने अपनी सहेलियों को भी इस बारे में बता दिया। उनके साथ 24 अन्य महिलाओं ने 1-1 हजार रुपये आरोपी को भेज दिए। लेकिन बाद में सब गोलमाल निकला। वह कहीं भी दर्शन के लिए नहीं जा पाए। महिलाओं ने साइबर पुलिस के पॉर्टल पर शिकायत दी, साथ ही सारी डिटेल्स अपलोड की। जिस पर गुरुवार को शाहदरा साइबर पुलिस स्टेशन में धोखाधड़ी का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।पीड़ित अनामिका शर्मा (50) परिवार के साथ कृष्णा नगर इलाके में रहती हैं। उन्हीं के पास फेसबुक पर मेसेज आया था। मेसेज में कॉन्टैक्ट नंबर भी था। जिस पर बात करने के बाद तय हुआ कि उनके सहित 25 महिलाएं दर्शन करने जाएंगी। जिसके बदले में सभी ने बीती 24 फरवरी को जालसाज को 1-1 हजार रुपये ट्रांसफर कर के उसे स्क्रीनशॉट भी भेज दिए। लेकिन आरोपी उनके ग्रुप को दर्शन के लिए कहीं भी नहीं लेकर गया। हारकर अनामिका ने सभी महिलाओं से स्क्रीनशॉट लेकर उन्हें अपलोड किए और शिकायत दर्ज करवाई।खुद भी फंसी, सहेलियां भी झांसे में आ गईंआरोपी ने 25 हजार रुपये एडवांस अपने खाते में ट्रांसफर करवा लिए। यात्रा के दिन के बारे में पूछा गया तो आरोपी टालमटोल करने लगा। कुछ समय बाद उसका फोन ही बंद हो गया। जालसाजी का अहसास होने पर पीड़ितों ने शाहदरा जिला साइबर थाने में मुकदमा दर्ज करवाया। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है। अनामिका शर्मा (50) परिवार के साथ कृष्णा नगर इलाके में रहती हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि कुछ दिन पहले उनके फेसबुक मेसेंजर पर एक मेसेज आया। इसमें एक विज्ञापन के साथ फोन नंबर भी था।दावा किया गया था कि महज 1100 रुपये में वैष्णो देवी और दरबार साहिब के दर्शन करवाते हैं। उन्होंने कॉल किया और एक शख्स से 24 अन्य महिलाओं के साथ यात्रा पर चलने की बात कही। सभी आसपास की परिचित महिलाएं पर जाने के लिए तैयार हो गईं। आरोपी ने यात्रा के रजिस्ट्रेशन के नाम पर हरेक महिला से एक-एक हजार रुपये ऑनलाइन अपने खाते में मंगवा लिए। यात्रा की तारीख के बारे में पूछने पर वह बहाने बनाने लगा। कुछ समय बाद फोन ही बंद कर लिया।साइबर फ्रॉड से बचने के टिप्ससोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले लोग किसी भी अंजान प्रोफाइल पर विश्वास न करें, केवल जिन्हें पहले से जानते हैं, जिनके मोबाइल नंबर आपके पास हैं, उनसे बात करके ही या वेरीफाइड प्रोफाइल्स पर ही विश्वास करें। क्योंकि लोगों की फेक प्रोफाइल बनाकर फ्रॉड करना भी चलन में है।कोई भी ऐसे लुभावने ऑफर देता है तो पहले खुद अपनी समझ का इस्तेमाल करें और सोचें कि क्या ऐसा संभव है? जहां भी संदेह हो तो समझ जाएं कि कुछ गड़बड़ है।इसलिए जल्दी से किसी के भी द्वारा भेजे गए लिंक पर क्लिक करने से बचें।ऑफर देने वाली कंपनी या शख्स का बैकग्राउंड (कब से काम कर रही है), उस पर लोगों के कमेंट्स को एक बार जरूर देख लें।