Delhi Police ने अंतरराज्यीय ड्रग गिरोह का किया पर्दाफाश, गांजे के साथ कार की जब्त

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक अंतरराज्यीय ड्रग गिरोह का भंडाफोड़ किया है। इस मामले में क्राइम ब्रांच ने एक 28 वर्षीय व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया है। क्राइम ब्रांच ने दावा किया है कि गाड़ी से उन्हें उच्च गुणवत्ता वाला मारिजुआना (गांजा) मिला है, जिसे जब्त कर लिया गया है। जानकारी के मुताबिक ड्रग्स की ये खेप टोयोटा कोरोला से लाई जा रही थी। पुलिस की टीम के अनुसार बरामद किया गया गांजा लगभग 52 किलोग्राम है। इसकी कीमत लाखों रुपये बताई गई है। वहीं आरोपी युवक की पहचान बिहार स्थित भोजपुर निवासी नीरज कुमार के तौर पर हुई है। पुलिस के मुताबिक गांजा की खेप की डिलीवरी को लेकर टीम को सूचना मिली थी, जिसमें सामने आया था कि गांजा टोयोटा गाड़ी में ले जाया जाएगा। इस दौरान क्राइम ब्रांच के विशेष पुलिस आयुक्त रवींद्र सिंह यादव ने कहा कि टीम ने व्यापक निगरानी की और संदिग्ध की सूचना जुटाई। संदिग्ध के ओडिशा से दिल्ली जाने के मार्ग को चाक चौबंद किया गया था। पुलिस की टीम को जानकारी मिली थी कि आरोपी नियमित रूप से इस तरह का आना जाना करता है। मगर संदिग्ध कारों की पंजीकरण संख्या की जानकारी नहीं मिली थी। इसके बाद कई सूत्रों से मिली जानकारी के मतुाबिक गाड़ी पर नजर रखी गई और उसकी निगरानी की गई। जानकारी के मुताबिक खेप को भलस्वा पहुंचा था, जिसके बाद पुलिस ने इसकी कड़ी निगरानी की। गाड़ी की जानकारी मिलने और रूट कंफर्म होने के बाद पुलिस की टीम ने गाड़ी का पीछा किया और भलस्वा झील के पास सर्विस रोड पर इस गाड़ी को रोककर चालक को गिरफ्तार किया। इसके बाद पुलिस ने जब गाड़ी की पड़ताल की तो काफी संदिग्ध सामान उसमें मिला। पुलिस ने पाया कि गाड़ी की डिक्की सामान्य से छोटी थी। इस डिक्की में सीक्रेट जगह बना गई थी, जिसे पेंच से फिक्स किया गया था। इसे खासतौर से गांजा छिपाने के लिए बनाया गया था। माना जा रहा है कि ये गांजा दिल्ली में अलग अलग जगहों पर सप्लाई किया जाना था।