Dawood Ibrahim की संपत्तियों को हासिल करने वाले दिल्ली के वकील Ajay Shrivastava ने इस कारण खरीदी प्रॉपर्टी

अंडरवर्ल्ड डॉन और मुंबई बम धमाकों के आरोपी दाऊद इब्राहिम की जमीन की नीलामी की जा चुकी है। मुंबई में ही दाऊद इब्राहिम की संपत्ति की नीलामी की गई थी। इस नीलामी का आयोजन स्मगलर्स एंड फॉरेन एक्सचेंज मैनिपुलेटर्स (संपत्ति की जब्ती) अधिनियम के तहत अधिकारियों ने किया था। इस नीलामी में दाऊद की पैतृक संपत्ति भी शामिल है जो महाराष्ट्र के रत्नागिरी जिले के खेड़ तहसील में है। ये नीलामी कुल चार संपत्तियों की हुई है।बता दें कि इस नीलामी में दिल्ली के एक वकील अजय श्रीवास्तव ने शुक्रवार को मुंबई में 2 करोड़ रुपये से अधिक की नीलामी में भगोड़े अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के परिवार के सदस्यों की जमीन के दो टुकड़े हासिल किए हैं। अजय श्रीवास्तव द्वारा दाऊद इब्राहिम की संपत्ति को हासिल करने के बाद उन्होंने सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है।जानकारी के मुताबिक ये संपत्तियां भगोड़े आतंकवादी दाऊद इब्राहिम की मां अमीना बी की थीं। दिलचस्प बात यह है कि खरीदारी जितनी दिखती है उससे कहीं अधिक जटिल है क्योंकि बोली जीतने के पीछे वकील का मकसद सिर्फ जमीन हासिल करने से कहीं अधिक है। प्लॉट के लिए आरक्षित मूल्य से काफी ऊपर बोली लगाने के अपने फैसले के बाद अजय श्रीवास्तव ने कहा, “मैं संपत्ति पर एक स्कूल स्थापित करूंगा। मैंने दाऊद इब्राहिम के बंगले पर पहले ही ‘सनातन धर्म पाठशाला’ की स्थापना कर ली है, जिसे मैंने 2020 में खरीदा था।’उन्होंने बताया कि मैंने कुल दो प्लॉट खरीदे हैं। उन्होंने कहा कि मैंने इसे बड़ी भारी कीमत पर खरीदा है क्योंकि प्लॉट का सर्वेक्षण नंबर मेरी जन्मतिथि से मेल खाता है। मैं ज्योतिष में भी विश्वास करता हूं इसलिए मैंने इसे खरीदा है। पिछली नीलामी में भी मैंने एक प्लॉट खरीदा था। इस तरह की नीलामी में संपत्ति खरीदने के बाद इसके पीछे उन्होंने कारण भी बताया है। अजय श्रीवास्तव ने कहा कि वो आतंकवादी के खिलाफ खड़े होना चाहते है। खुद को मजबूती के साथ खड़ा करने का उनका ये तरीका है। दाऊद की संपत्ति को खरीदकर दुनिया को बताना जरुरी है कि दाऊद का प्रभाव अब नहीं रहा है। हालाँकि, यह पहली बार नहीं है कि श्रीवास्तव ने दाऊद इब्राहिम से जुड़ी संपत्तियाँ खरीदी हैं। 2020 में, दिल्ली स्थित वकील ने महाराष्ट्र के खेड़ में दाऊद के पैतृक घर को 11.2 लाख रुपये में हासिल कर लिया।