बंगाल के गवर्नर की सीवी आनंद बोस बढ़ेंगी मुश्किलें! छेड़खानी का आरोप लगाने वाली ओडिसी डांसर वापस नहीं लेंगी केस

कोलकाता: पश्चिम बंगाल के राज्यपाल सीवी आनंद बोस और उनके भतीजे के खिलाफ रेप का आरोप लगाने वाली ओडिसी नृत्यांगना ने इस केस को वापस लेने से साफ इनकार कर दिया है। पीड़िता ने बयान जारी कर कहा कि वह इस मामले में सक्रिय होकर केस नहीं लड़ सकती हैं, क्योंकि वह अमेरिका में एक लंबी कानूनी लड़ाई लड़ रही हैं। उन्होंने अपना बयान टीएमसी नेता कुणाल घोष के जरिये जारी किया, जिसे उन्होंने फेसबुक के माध्यम से सार्वजनिक कर दिया। बता दें कि कुछ दिन पहले यह चर्चा थी कि उत्पीड़न के आरोप लगाने वाली ओडिसी नृत्यांगना अपनी शिकायत वापस ले रही है। राज्यपाल पर लगाए ये आरोपबता दें कि अमेरिका में रहने वाली नृत्यांगना ने पिछले अंक्टूबर में आरोप लगाया था कि राज्यपाल सीवी आनंद बोस और उनके भतीजे ने जनवरी 2023 में दिल्ली के बड़े होटल में उनका यौन शोषण किया था। उनके इस बयान से खलबली मच गई थी। पीड़िता ने दावा किया था कि वह एक कानूनी मामले में मदद के लिए राज्यपाल से मिलने ताज होटल गई थी, तब उनके साथ यह घटना हुई। जब यह मामला गरमाया तब नृ्त्यांगना कोलकाता लौट आई। उनकी शिकायत के आधार पर कोलकाता पुलिस ने जीरो एफआईआर दर्ज कर केस को दिल्ली ट्रांसफर कर दिया था। ओड़िसी नृत्यांगना ने कहा कि उन्होंने अपनी शिकायत वापस नहीं लीकुणाल घोष के जरिये जारी अपने बयान में ओड़िसी नृत्यांगना ने कहा कि उन्होंने अपनी शिकायत वापस नहीं ली है, मगर वह अन्य मामले में व्यस्तता और गिरते स्वास्थ्य के कारण इस मुद्दे को आगे बढ़ाने में असमर्थ हैं। बता दें कि राज्यपाल के खिलाफ केस दर्ज करने के बाद राजभवन और सरकार के बीच तनातनी चल रही है। राजभवन की ओर से कोलकाता पुलिस आयुक्त विनीत गोयल और डीसीपी (केंद्रीय) इंदिरा मुखर्जी के खिलाफ केंद्र और राज्य को शिकायत भेजी गई है। राज्यपाल की ओर से कहा गया कि राजनीति के तहत पुलिस अफसरों ने महिला को झूठी शिकायत करने के लिए उकसाया था।