सांस्कृतिक राष्ट्रवाद विदेशी आक्रमणकारियों की गलतियों को सुधार रहा है: Naqvi

वरिष्ठ भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने बुधवार को कहा कि भारत में सांस्कृतिक राष्ट्रवाद विदेशी आक्रमणकारियों के सांप्रदायिक, क्रूर और आपराधिक कृत्यों को सुधार रहा है।

नकवी ने कहा कि भारत सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का पावरहाउस है और यह संवैधानिक धर्मनिरपेक्षता के मजबूत संकल्प के साथ एक भारत, श्रेष्ठ भारत की यात्रा पर आगे बढ़ रहा है।
यहां संस्कृति विश्वविद्यालय में बृज साहित्य उत्सव के अवसर पर अपने संबोधन में पूर्व केंद्रीय मंत्री नकवी ने कहा कि भारत दुनिया का एकमात्र देश है जहां सभी धर्मों के धर्मावलंबी और किसी भी धर्म को नहीं मानने वाले लोग साथ-साथ रहते हैं और फलते-फूलते हैं।
नकवी ने कहा, कुछ विदेशी आक्रमणकारियों के आपराधिक, सांप्रदायिक और क्रूर कृत्यों को भी इस सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की दृढ़ शक्ति के माध्यम से ठीक किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि संवैधानिक धर्मनिरपेक्षता सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के बिना अधूरी है, जो विविधता में एकता का सशक्त वाहक है।
उन्होंने कहा कि साहित्यिक उत्सव जैसे आयोजन हमारी सांस्कृतिक विरासत और पहचान को मजबूत करते हैं। इस कार्यक्रम में ब्रज कला केंद्र के अध्यक्ष विष्णु गोयल, प्रसिद्ध लेखक-कवि अशोक चक्रधर और संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति सचिन गुप्ता शामिल हुए।