‘अपराधी अपराध छोड़ें या प्रदेश’, Ashok Gehlot बोले- राजस्थान को बदनाम करने की हो रही कोशिश

केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार पर तीखा हमला करते हुए, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि रेप के साथ हत्या के मामलों में उनका दसवें नंबर पर है जबकि यूपी, असम और मध्य प्रदेश देश में क्रमश: पहले, दूसरे और तीसरे नंबर पर हैं। इन तीनों ही राज्यों में भाजपा सत्ता में है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेता और मंत्री राजस्थान को बदनाम करने के लिए जानबूझकर अफवाहें फैला रहे हैं, इन आंकड़ों से उनकी पोल खुल जाती है।  इसे भी पढ़ें: PM Modi पर अशोक गहलोत ने साधा निशाना, कहा- उन्हें भ्रम कि वह केवल भाजपा और हिंदुओं के ही प्रधानमंत्री हैंराजस्थान में फर्जी एनकाउंटर की परंपरा नहीं गहलोत की यह टिप्पणी भीलवाड़ा में 14 वर्षीय लड़की के साथ कथित तौर पर बलात्कार और हत्या के बाद “पुलिस निष्क्रियता” को लेकर भाजपा द्वारा राजस्थान सरकार पर हमला करने के कुछ हफ्ते बाद आई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कथित तौर पर बलात्कार के बाद नाबालिग के शरीर के अंग कोयले की भट्ठी में पाए गए थे। भाजपा शासित राज्यों में “फर्जी मुठभेड़ों” का दावा करते हुए, सीएम गहलोत ने कहा कि राजस्थान में “वास्तविक मुठभेड़” हो रही हैं और कानून-प्रवर्तन अधिकारी अपराधियों के पीछे पड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि फर्जी मुठभेड़ों और वास्तविक मुठभेड़ों में अंतर होता है। राजस्थान में फर्जी एनकाउंटर की परंपरा नहीं है, हम नहीं चाहते कि यह परंपरा यहां आए।  इसे भी पढ़ें: मोनू मानेसर को लेकर हरियाणा बनाम राजस्थान! खट्टर के बयान पर अशोक गहलोत का पलटवारअपराधी राजस्थान छोड़ देंइसके साथ ही गहलोत ने साफ तौर पर कहा कि अपराधी या तो अपराध करना छोड़ दें या फिर राजस्थान को छोड़ दें, उन्हें किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। गौरतलब है कि महिला सांसदों के एक भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने भीलवाड़ा घटना के मद्देनजर राज्य का दौरा किया था और कहा था कि अगर पुलिस सतर्क होती तो लड़की को बचाया जा सकता था। बीजेपी सांसद लॉकेट चटर्जी ने कहा था कि कांग्रेस दूसरे राज्यों में क्या हो रहा है, इस पर हंगामा करती है, लेकिन उन्हें नहीं पता कि उनके शासन वाले राज्यों में क्या हो रहा है। वह मणिपुर हिंसा का जिक्र कर रही थीं।