Maldives Controversy पर क्रिकेटरों ने भी दिखाई नाराजगी, विवादित बयान पर भड़के सुरेश रैना और इरफान खान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर मालदीव के मंत्रियों द्वारा की गई विवादित टिप्पणी का मामला लगातार जोर पकड़ता जा रहा है। प्रधानमंत्री में नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाली मंत्री को सस्पेंड कर दिया गया है जिसकी जानकारी मालदीव सरकार के प्रवक्ता ने दी है। मैं इस विवादित टिप्पणी के बाद खेल जगत के दिग्गजों ने भी मालदीव के मंत्रियों द्वारा दी गई इससे टिप्पणी पर गुस्सा जाहिर किया है। पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना और इरफान पठान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर की गई टिप्पणी पर नाराज की व्यक्त की है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना ने एक पोस्ट में कहा कि मालदीव्स की प्रमुख हस्तियों ने जो टिप्पणी की है उसे मैंने देखा है। यह टिप्पणियां भारतीयों के प्रति नफरत और नसलवाद फैलाने वाली है। इस तरह की टिप्पणियों को देखना बेहद निराशाजनक रहा है। मालदीव की अर्थव्यवस्था में भारतीयों की भूमिका काफी अहम है। भारत मालदीव के क्राइसिस मैनेजमेंट और कई अन्य पहलुओं में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। उन्होंने लिखा कि मालदीव का दौरा करने और वहां की सुंदरता की तारीफ करने की बजाय अब हमें अपनी आत्म सम्मान को प्राथमिकता देनी चाहिए। मालदीव के नेताओं द्वारा की गई टिप्पणियों के बाद भारतीयों को एकजुट होकर अपने एक्सप्लोर इंडियन आईलैंड को चुनना चाहिए। इरफान पठान ने भी मालदीव के मंत्रियों द्वारा की गई टिप्पणियों पर नाराजगी जाहिर की है। मालदीव के मंत्री जाहिद रमीज ने भारतीय होटल को खराब बताया था जिसके जवाब में पूर्व भारतीय क्रिकेटर इरफान पठान ने कहा कि मैं 15 वर्ष की आयु से विदेश की यात्रा कर रहा हूं। मैं जिस भी ने देश में गया वहां की सर्विस देखने के बाद मुझे भारतीय होटल और टूरिज्म पर बेहद मजबूत विश्वास हुआ है। हर देश की संस्कृति का सम्मान करते हुए नकारात्मक बातें सुनना निराशाजनक है।