भाजपा विधायक के निर्वाचन को चुनौती देने वाली कांग्रेस नेता की याचिका खारिज

भोपाल (dailyhindinews.com)। मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने टीकमगढ़ के भाजपा विधायक राकेश गिरी के खिलाफ दायर चुनाव याचिका खारिज कर दी है। हाईकोर्ट के जस्टिस डीके पालीवाल (Justice DK Paliwal) की एकलपीठ ने पराजित उम्मीदवार यादवेन्द्र सिंह बुंदेला की भाजपा विधायक के निर्वाचन को चुनौती देने वाली याचिका दायर खारिज कर दी। गिरी ने महज 41 सौ वोटों से चुनाव जीता था।

याचिका में आरोप लगाया गया था कि भाजपा प्रत्याशी ने साल 2018 में भ्रष्टाचार कर चुनाव जीता इसलिए उनका निर्वाचन शून्य किया जाए। चुनाव के समय टीकमगढ़ नगर परिषद की अध्यक्ष राकेश गिरी की पत्नी थीं। उन्होंने नगर परिषद में कार्यरत 150 दैनिक वेतन भोगियों को चुनाव प्रचार में लगाया था।

याचिका में कहा गया कि चुनाव के दौरान भाजपा प्रत्याशी ने वोट के लिए उपहार और शराब बांटी। लोगों को कंबल और साड़ियों के अलावा नकद रुपये भी दिए गए। भाजपा प्रत्याशी ने अपने आपराधिक रिकॉर्ड का विवरण भी समाचार पत्रों में प्रकाशित नहीं कराया था। लेकिन सुनवाई के दौरान एकलपीठ ने पाया कि भाजपा प्रत्याशी ने आपराधिक रिकॉर्ड का विवरण स्थानीय अखबार में प्रकाशित करवाया था।

अदाालत ने पाया कि याचिकाकर्ता अपने आरोपों के संबंध में साक्ष्य प्रस्तुत नहीं कर सका। इसके बाद एकलपीठ ने याचिका को खारिज करते हुए आदेश की प्रति चुनाव आयोग और विधानसभा अध्यक्ष को भेजने के निर्देश दिए।

विनम्र अनुरोध : कृपया वेबसाइट के संचालन में आर्थिक सहयोग करें

For latest sagar news right from Sagar (MP) log on to Daily Hindi News डेली हिंदी न्‍यूज़ के लिए डेली हिंदी न्‍यूज़ नेटवर्क Copyright © Daily Hindi News 2021