Pran Pratistha समारोह का भी ‘तुष्टीकरण’ कर रही है Congress, निमंत्रण अस्वीकार करने पर BJP नेता C. P. Joshi कहा

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राजस्थान इकाई के अध्यक्ष सी पी जोशी ने शनिवार को कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में भाग लेने से कांग्रेस का इनकार करना दर्शाता है कि वह इसमें भी ‘‘तुष्टीकरण’’ देख रही है। जोशी ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘आखिर कांग्रेस को भगवान राम के नाम से तकलीफ क्या है? यह वही कांग्रेस पार्टी है जिसने उच्चतम न्यायालय में हलफनामा दिया था कि राम ‘‘काल्पनिक’’ हैं। यही कांग्रेस पार्टी है जिसने सनातन को डेंगू, मलेरिया एवं एड्स कहा।’’ जोशी ने कहा कि कांग्रेस को इस कार्यक्रम में आना चाहिए जिससे ‘‘उसके सारे पाप धुल जाएंगे।’’उन्होंने मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा को भाजपा द्वारा राजनीति का आयोजन बनाए जाने संबंधी आरोपों को लेकर कहा, ‘‘भगवान राम देश और दुनिया के करोड़ों लोगों की आस्था का प्रतीक है।’’ उन्होंने कहा,‘‘… ऐसे में इस कार्यक्रम का भी विरोध करना दर्शाता है कि आपको कहीं न कहीं यहां भी तुष्टीकरण दिख रहा है।’’ उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने अयोध्या में 22 जनवरी को राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल होने का निमंत्रण अस्वीकार कर दिया है। कांग्रेस इस कार्यक्रम को राजनीतिक कार्यक्रम करार दे रही है। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी कहा था कि भाजपा ने भगवान राम के कार्यक्रम को अपने राजनीतिक फायदे का आयोजन बना दिया है।