कांग्रेस ने आचार्य प्रमोद कृष्णम को पार्टी से निकाला, मोदी-योगी की की थी तारीफ, राहुल गांधी पर किया था तंज

लखनऊः कांग्रेस और कांग्रेस नेताओं पर लगातार अप्रिय बातें बोल रहे को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है। कृष्णम को 6 साल के लिए कांग्रेस से निष्कासित कर दिया गया है। उन्होंने हाल ही में मीडिया से बात करते हुए कहा था कि भाजपा में जाना कोई गुनाह नहीं है। तब ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि वह भाजपा में जाने वाले हैं। इस पर आचार्य ने कहा था कि अभी इस बारे में किसी से कोई बात नहीं हुई है। उन्होंने इंडिया गठबंधन पर भी सवाल उठाए थे और कहा था कि इंडिया गठबंधन जैसी कोई चीज नहीं है। यह पैदा होते ही कई बीमारियों से ग्रस्त हो गया है। प्रमोद कृष्णम ने कल्कि धाम के शिलान्यास के लिए मोदी और योगी को न्योता भी दिया है। इस दौरान उन्होंने मोदी और योगी की जमकर तारीफ की थी। राहुल गांधी को लेकर भी उन्होंने विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी से मिलने में मुझे 4-5 दिन लगे। राहुल गांधी व्यस्त रहते हैं। वे थोड़ा कम मिलते हैं, उनका ज्यादा मिलने का स्वभाव भी नहीं है। राहुल गांधी के पास जब समय होगा तभी मिलेंगे। शायद उन्हें लगता होगा कि इनसे मिलना समय की बर्बादी है। उन्होंने यह भी कहा कि मेरी कांग्रेस के बड़े नेताओं से दो-तीन सालों से मुलाकात नहीं हुई है।प्रमोद कृष्णम से भाजपा में जाने को लेकर सवाल किया गया था तो उन्होंने कहा था कि भाजपा में आना कोई गुनाह नहीं है। चुनाव लड़ना कोई गुनाह नहीं है। सियासत संभावनाओं का खेल है। कौन जानता था कि मैं गृहमंत्री राजनाथ सिंह जी के खिलाफ लखनऊ चुनाव लड़ने आऊंगा। कौन जानता था कि लखनऊ की जनता मुझे इतना प्यार देगी। ये सब सवाल भविष्य के हैं। मैं इतना कहना चाहता हूं कि अभी तक मैंने भाजपा जॉइन नहीं की है और न ही मुझे किसी ने ये कहा है कि भाजपा जॉइन करो।