ठंड और कोहरे ने थामी पूरे उत्तर भारत में जनजीवन की रफ्तार, Fog की वजह से कई ट्रेनों के देरी से चलने से यात्री हो रहे परेशान

पूरा उत्तर भारत इस समय कड़ाके की ठंड और कोहरे से परेशान है। ठंड के चलते विभिन्न राज्यों में छोटे बच्चों के लिए स्कूल तो बंद हैं लेकिन कामकाजी लोगों को तो घर से निकलना ही पड़ रहा है। सबसे ज्यादा परेशानी मजदूर वर्ग को हो रही है। सर्दियों में सड़कों पर अलाव जला कर लोग आपको हाथ सेंकते हुए या चाय की दुकानों पर गर्मागर्म चाय की चुस्कियां लेते हुए दिख जाएंगे। इसके अलावा कोहरे की वजह से हवाई, सड़क और रेल यातायात पर भी असर पड़ रहा है। हम आपको बता दें कि उत्तरी मैदानी इलाकों में शुक्रवार को कोहरे की परत छाई रही और यह पूर्वोत्तर तक फैल गई, जिससे दृश्यता कम हो गई और रेल यातायात प्रभावित हुआ।रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि कोहरे के कारण दिल्ली आने वाली 23 रेलगाड़ियां प्रभावित हुईं। उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और बिहार पर कोहरे की एक परत दिखाई दी, जो पूर्वोत्तर भारत तक फैली हुई है। ओडिशा में भी कई स्थानों पर कोहरा दिखाई दिया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास पालम वेधशाला में दृश्यता का स्तर शून्य हो गया। आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि सफदरजंग हवाई अड्डे पर दृश्यता कम होने से 200 मीटर की दूरी तक ही दिखाई दे रहा था। पंजाब के अमृतसर और उत्तर प्रदेश के लखनऊ और वाराणसी में दृश्यता का स्तर 25 मीटर रहा, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश के बरेली, बिहार के पूर्णिया और असम के तेजपुर में 50 मीटर और हरियाणा के अंबाला और राजस्थान के गंगानगर में यह 200 मीटर रहा।इसे भी पढ़ें: Weather Updates: दिल्ली में न्यूनतम तापमान 3.9 डिग्री सेल्सियस, इस मौसम की सबसे अधिक सर्दीहम आपको यह भी बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी में आज न्यूनतम तापमान 3.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो इस मौसम के औसत तापमान से तीन डिग्री कम है और इस सर्दी का सबसे कम तापमान है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि यह पिछले पांच वर्षों में सबसे कम न्यूनतम तापमान है। बहरहाल, आइये देखते हैं उत्तर भारत के लोग कैसे ठंड का सामना कर रहे हैं।