मुख्यमंत्री धामी ने रुद्रप्रयाग की जनता को 468 करोड़ रुपये की योजनाओं की दी सौगात, रोड शो का भी किया आयोजन

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को रुद्रप्रयाग में रोड शो किया और करीब 468 करोड़ रुपये की योजनाओं का शिलान्यास तथा लोकार्पण किया। एक दिवसीय दौरे पर रूद्रप्रयाग पहुंचे मुख्यमंत्री ने प्राचीन देवल से अगस्त्यमुनि के खेल मैदान तक आयोजित विशाल रोड शो में भाग लिया। इस दौरान बड़ी संख्या में मौजूद लोगों ने धामी का स्वागत किया। रोड शो में मुख्यमंत्री के साथ रूद्रप्रयाग के विधायक भरत चौधरी, केदारनाथ की विधायक शैला रानी रावत तथा भाजपा के ज़िलाध्यक्ष महावीर पवार मौजूद रहे। इस दौरान, मुख्यमंत्री ने नारी शक्ति वंदन महोत्सव ब्वै, ब्वारी, नौनी कौथिग में भी भाग लिया तथा विभिन्न विभागों के स्टॉल का अवलोकन कर महिलाओं के साथ संवाद भी किया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने रुद्रप्रयाग पर्यटन विभाग की ओर से तैयार कॉफी टेबल बुक का विमोचन भी किया। उन्होंने इस मौके पर रूद्रप्रयाग जिले के लिए कई विकास योजनाओं की घोषणाएं भी कीं, जिनमें गौरीकुंड में स्थित मॉ गौरी के मन्दिर का सौंदर्यीकरण, द्वितीय केदार श्री मद्यमहेश्वर धाम को विकसित किया जाना शामिल है। इस मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचप्रयागों में शामिल रूद्रप्रयाग का स्थान उत्तराखंड में ही नही बल्कि भारत में भी अति विशिष्ट है। उन्होंने कहा कि हमारी मातृशक्ति सही अर्थों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिए गए आत्मनिर्भर भारत और वोकल फॉर लोकल’ के मंत्र को धरातल पर उतारने का कार्य कर रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज प्रदेश के दुर्गम गांव-गांव में महिलाएं स्वयं सहायता समूह बनाकर कुटीर उद्योगों के जरिए ग्रामीण अर्थव्यवस्था को गति प्रदान कर रही हैं।  इसे भी पढ़ें: Haryana । मुख्यमंत्री खट्टर ने गांव का अपना पुश्तैनी घर e-Library में बदलने के लिए गांव वालों को सौंपाउन्होंने कहा कि महिलाओं के पास कौशल की कभी कोई कमी नहीं रही और अब यही कौशल उनकी और उनके परिवारों की आर्थिकी को शक्ति प्रदान कर रहा है। उन्होंने कहा, बतौर मुख्यसेवक मेरा यह प्रयास रहा है कि प्रदेश की जनता के हितों के लिए जो भी आवश्यक कदम हों, बिना देरी के उठाएं जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार को समान नागरिक संहिता का मसौदा जल्दमिल जाएगा जिसके बाद इसे लागू कर दिया जाएगा।