Chandrayaan-3 Launch: खत्म हुआ इंतजार, जानें कब लॉन्च होगा भारत का सबसे बड़ा मिशन चंद्रयान 3?

भारत अब चांद पर जाने की तैयारी कर रहा है। भारत जल्द ही चंद्रयान 3 को चांद पर भेजने की तैयारी में है। इसरो जुलाई में चंद्रयान 3 लॉन्च करने जा रहा है। लेकिन इसरो ने इसके लिए तारीख तय नहीं की है। चंद्रयान 3 का प्रक्षेपण भारत के अंतरिक्ष क्षेत्र की सबसे बड़ी उपलब्धि होगी। उपग्रह श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र में पहुंच गया है। जुलाई में चंद्रमा पर लॉन्च करने के लिए महत्वाकांक्षी चंद्र मिशन को जल्द ही भारत के सबसे शक्तिशाली रॉकेट, जियोसिंक्रोनस सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल मार्क-III (GSLV Mk-III) के साथ एकीकृत किया जाएगा। इसे भी पढ़ें: Navigation satellite एनवीएस-01 को लेकर जीएसएलवी-एफ12 श्रीहरिकोटा से रवानाइसरो अध्यक्ष एस सोमनाथ ने सोमवार को जीएसएलवीएफ 12 मिशन के सफल प्रक्षेपण के बाद कहा कि चंद्रयान-3 इस जुलाई में प्रक्षेपण के लिए तैयार हो रहा है। हमारा लक्ष्य इसे जुलाई में ऑर्बिटल पैरामीटर्स के आधार पर टाइम स्लॉट में लॉन्च करना है और हम इस दिशा में काम कर रहे हैं। सब कुछ तैयार हो रहा है। उन्होंने कहा, “इस बार हम निश्चित रूप से उतरने जा रहे हैं क्योंकि हमने सभी सुधार किए हैं जो हम सोच सकते थे और कर सकते थे और सभी सिमुलेशन जो गलत हो सकते थे, को संबोधित किया गया है। अगर हमें कोई संदेह है, तो हम लॉन्च नहीं करेंगे। इसरो के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि चंद्रयान -3 श्रीहरिकोटा पहुंच गया है और हम इसे चंद्रमा पर लॉन्च करने के लिए लॉन्च वाहन के साथ एकीकृत करने जा रहे हैं। इसे भी पढ़ें: ISRO launches NVS-01 Navigation satellite | इसरो ने लॉन्च किया ‘नाविक’ सैटेलाइट, अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा- ‘मिशन पूरा हुआ’गौरतलब है कि चंद्रयान-2 के लैंडर-रोवर के दुर्घटनाग्रस्त होने के चार साल बाद चंद्रयान-3 के प्रक्षेपण की घोषणा की गई है। चंद्रयान -3 मिशन के जुलाई में श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लॉन्च होने की उम्मीद है, जो सूर्य की ब्रह्मांडीय किरणों से सुरक्षित चंद्रमा की तरफ है। इसरो के वरिष्ठ अधिकारियों ने पुष्टि की है कि मिशन की तैयारी अंतिम चरण में है।