झारखंड के 12वें मुख्यमंत्री बने चंपई सोरेन, राजभवन में ली पद की शपथ, कांग्रेस-राजद कोटे से भी एक-एक विधायक मंत्री बने

झामुमो उपाध्यक्ष चंपई सोरेन ने रांची के राजभवन में झारखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। राज्यपाल ने उन्हें पद और गोपनियता की शपथ दिलाई। चंपई सोरेन को गुरुवार को मुख्यमंत्री पद के लिए नामांकित किया गया था, क्योंकि उन्होंने राज्यपाल से सरकार बनाने के उनके दावे को जल्द से जल्द स्वीकार करने का आग्रह किया था क्योंकि राज्य में “भ्रम” था, जो बुधवार को हेमंत सोरेन के इस्तीफे के बाद से मुख्यमंत्री के बिना था।  इसे भी पढ़ें: Live : झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की मुसिबतें बढ़ती जा रही हैं, ED ने कसी हुई है नकैल कांग्रेस और राजद कोटे से भी एक-एक विधायक मंत्री बने हैं। यह कही ना कही सहयोगियों को साथ लेकर चलने की कवायद है। कांग्रेस के आलमगीर आलम ने रांची के राजभवन में झारखंड कैबिनेट में मंत्री पद की शपथ ली। राजद के सत्यानंद भोक्ता ने रांची के राजभवन में झारखंड कैबिनेट में मंत्री पद की शपथ ली। इसे भी पढ़ें: Champai Soren Oath Ceremony| मुख्यमंत्री बनने जा रहे चंपई सोरेन के पास जानें कितनी है संपत्ति, Hemant से है इतने पीछेप्रदेश कांग्रेस प्रमुख राजेश ठाकुर ने कहा कि चंपई सोरेन को अपनी सरकार का बहुमत साबित करने के लिए 10 दिन का समय दिया गया है। कांग्रेस राज्य में झामुमो-नीत गठबंधन की सहयोगी पार्टी है। इससे पहले चंपई सोरेन ने कहा था, ‘‘हम एकजुट हैं। हमारा गठबंधन मजबूत है, इसे कोई तोड़ नहीं सकता।’’ आदिवासी नेता चंपई सोरेन (67) राज्य के 12वें मुख्यमंत्री हैं। वह झारखंड के कोल्हान क्षेत्र से छठे मुख्यमंत्री होंगे। कोल्हान क्षेत्र में पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम और सरायकेला-खरसावां जिले हैं। झामुमो सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आलमगीर आलम और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के सत्यानंद भोक्ता भी कैबिनेट मंत्री पद की शपथ लेंगे।#WATCH | JMM vice president Champai Soren takes oath as the Chief Minister of Jharkhand, at the Raj Bhavan in Ranchi.This comes two days after Hemant Soren’s resignation as the CM and his arrest by the ED. pic.twitter.com/WEECELBegr— ANI (@ANI) February 2, 2024