राम मंदिर उद्घाटन के दिन केंद्र ने दी आधे दिन की छुट्टी, इन राज्यों में भी स्कूल-कॉलेज बंद, देखें लिस्ट

नई दिल्ली: के उद्घाटन के दिन 22 जनवरी को कई राज्यों में छुट्टी की घोषणा के बाद अब केंद्र सरकार ने आधे दिन की छुट्टी का आदेश कर दिया है। गुरुवार को केंद्र की ओर से घोषणा की गई कि राम मंदिर प्राण पतिष्ठा समारोह के लिए 22 जनवरी को सभी केंद्रीय सरकारी ऑफिस आधे दिन के लिए बंद रहेंगे। भगवान राम के प्रति कर्मचारियों की भावना और उनके अनुरोध को देखते हुए 22 जनवरी 2024 को दोपहर 2:30 बजे तक आधे दिन की छुट्टी की घोषणा की है। इस छुट्टी का मकसद है कि जब प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम हो तो लोग अपने घरों में बैठकर इस कार्यक्रम को देखें। केंद्र की घोषणा से पहले कई राज्यों में राम मंदिर के उद्घाटन के दिन छुट्टी की घोषणा की गई है। उत्तर प्रदेश: प्रदेश की योगी सरकार की ओर से घोषणा की गई है कि राज्य के सभी स्कूल-कॉलेज 22 जनवरी को बंद रहेंगे। इस दिन पूरे प्रदेश में शराब और मांस की दुकानें बंद रहेंगी। मध्य प्रदेश: मुख्यमंत्री मोहन यादव के निर्देश के अनुसार राज्य में शराब और मांस की दुकानें बंद रहेंगी।छत्तीसगढ़: प्रभु श्रीराम के ननिहाल छत्तीसगढ़ में 22 जनवरी को स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। इस दिन राज्य में शराब की दुकानें भी बंद रहेंगी।हरियाणा: हरियाणा में सभी स्कूल 22 जनवरी को बंद रहेंगे। इस दिन राज्य में शराब बेचने पर रोक है। राजस्थान: इस दिन छुट्टी नहीं रहेगी लेकिन राज्य में शराब की दुकानें बंद रहेंगी। गोवा: सीएम प्रमोद सावंत ने सरकारी कार्यालयों और स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है। राम मंदिर उद्घाटन समारोह 22 जनवरी को दोपहर 12:20 बजे आयोजित किया जाएगा। राम मंदिर के लिए प्रतिष्ठा समारोह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कई अन्य गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में होगा। वहीं 22 जनवरी से पहले 16 जनवरी को ही अनुष्ठान शुरू कर दिए गए हैं। प्राण-प्रतिष्ठा की तैयारी में प्रतिदिन अनुष्ठान किए जा रहे हैं। भगवान राम की मूर्ति प्राण-प्रतिष्ठा अनुष्ठान के दूसरे दिन मंदिर परिसर में पहुंची। इस बीच, बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने भी भारत के चीफ जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ को पत्र लिखकर 22 जनवरी को छुट्टी घोषित करने का आग्रह किया है। अध्यक्ष मनन कुमार मिश्रा ने धार्मिक, ऐतिहासिक और सांस्कृतिक क्षेत्र पर इसके गहरे प्रभाव का हवाला देते हुए श्री राम मंदिर उद्घाटन के महत्व को बताया।