कानपुर में बुजुर्ग महिला की कमरे में मिली जली हुई लाश, घर के दरवाजे पर लिखा मिला सुसाइड नोट!

सुमित शर्मा, कानपुर: यूपी के कानपुर से एक चौकाने वाला मामला प्रकाश में आया है। मंगलवार को एक बुजुर्ग महिला की घर के अंदर कमरे में जली हुई लाश मिली है। घर के अंदर से सुलगती हुई लाश का धुआं देखकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे, तो उन्होंने देखा कि दरवाजा बाहर से बंद है। मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस और फोरेंसिक टीम ने घटना स्थल का निरीक्षण किया। पुलिस ने देखा कि दरवाजे पर चॉक से एक नोट लिखा है। इसमें लिखा था कि अगर मंजू की अचानक मौत हो जाती है, तो इसके जिम्मेदार पड़ोसी होंगे। फिलहाल पुलिस इसकी जांच कर रही है।रायपुरवा थाना क्षेत्र स्थित छब्बा लाल के हाते में रहने वाली मंजू देवी (60) अकेले रहती थीं। पति अरविंद चौहान की पांच साल पहले मौत हो चुकी है। मंजू का किसी से कोई विवाद नहीं था। स्थानीय लोगों के मुताबिक मंजू को मंगलवार सुबह से घर के बाहर नहीं देखा गया था। सभी ने सोचा कि सर्दी ज्यादा होने की वजह से मंजू देवी घर के अंदर आराम कर रही हैं। घर के अंदर से धुआं उठता देखा गया, तो सभी ने सोचा कि वो घर में आग जलाकर ताप रही होंगी। धुंए में अजीब से बदबू थी, जिसकी वजह से लोगों को कुछ शक हुआ। मौके पर जाकर देखा गया, तो उनका शव जला हुआ पड़ा हुआ था।दरवाजे पर चॉक से लिखा मिला नोटमंजू देवी के घर का मुख्य दरवाजा लकड़ी का लगा हुआ है। जिसमें लिखा था कि मंजू की अगर अचानक मृत्यु हो जाती है, तो इसके जिम्मेदार पड़ोसी होंगे। सबूत के तौर पर यह नोट लिख रही हूं। इसके नीचे बीते 2 सितंबर 2023 की तारीख भी लिखी हुई है। सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात है कि मंजू देवी के घर का दरवाजे पर बाहर से कुंडी लगी थी। उनका शव कमरे के अंदर जल रहा था। पुलिस का मानना है कि दरवाजे पर लिखा गया नोट जांच को भटकाने के लिए भी लिखा जा सकता है।जांच के बाद होगी कार्रवाईएसीपी आईपी सिंह के मुताबिक रायपुरवा थाना क्षेत्र के छब्बालाल के हाता में में मंजू देवी की संदिग्ध परिस्थितियों में जलने से मौत हो गई है। डॉग स्क्वॉयड और फोरेंसिक टीम ने घटना स्थल का निरीक्षण किया है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है। जांच के बाद अग्रिम विधिक कार्रवाई की जाएगी।