बंगाल: पांशकुड़ा में बम बनाते हुआ विस्फोट, युवक के उड़े परखच्चे, हुई मौत, कई घायल

पश्चिम बंगाल के पूर्वी मेदिनीपुर स्थित पांशकुड़ा में बम बनाते हुए विस्फोट की घटना घटी है. विस्फोट की तीव्रता इतनी अधिक थी कि जिस मकान में बम बनाया जा रहा था, वह बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ है. एक व्यक्ति की मौत हुई है और कई लोगों की घायल होने की खबर है. बम विस्फोट की घटना से इलाके में दहशत है. पुलिस इलाके में पहुंच गयी है और घायलों को स्थानीय अस्पताल में पहुंचाया गया है, जबकि पुलिस ने पूरे इलाके की नाकेबंदी कर ली है. पूरे मामले की जांच की जा रही है.
प्राप्त जानकारी के अनुसार बम ब्लास्ट पूर्वी मेदिनीपुर के पांशुकुड़ा के पूर्वी चिलकर के सधवापोटा गांव में हुआ है. बम बनाते समय विस्फोट में एक व्यक्ति की मौत हो गई. घर का एक हिस्सा ढह गया. कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए.
बम बनाते हुए हुआ विस्फोट, कई घायल
प्राप्त जानकारी के अनुसार पांशकुड़ा के सधवपोटा गांव के श्रीकांत भक्त नाम के व्यक्ति के घर में पटाखे बनाई जाती थी और ज्ञात होता है कि पटाखे को भी घर में लाकर रखा गया था. घर के सदस्यों की संख्या पांच है. स्थानीय लोगों ने बताया कि उनमें से 17 वर्षीय शंभू सामंत नाम के एक किशोर की मौके पर ही मौत हो गई. घायल महिला यानी श्रीकांत भक्त की पत्नी को तमलू में भर्ती कराया गया, जबकि मकान मालिक लापता है. इस घटना के बाद से इलाके में दहशत है और आक्रोशित स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया.
विस्फोट से घर में लग गई आग
विस्फोट की घटना के बाद पुलिस आई और जांच शुरू की है. विस्फोट की तीव्रता इतनी अधिक थी कि शरीर के परखच्चे उड़ गये हैं और मकान बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ है. आरोप है कि काली पूजा के मद्देनजर मकान में अनैतिक से पटाखा बनाने का काम चल रहा था. उसी दौरान यह दुर्घटना हुई. यहां तक ​​कि घर में कई तरह के पटाखे बनाने के उपकरण भी थे. विस्फोट में घर के बगल में एक साइकिल सहित विभिन्न उपकरणों में आग लग गई. इस तरह की घटना से रहवासी दहशत में हैं. पुलिस ने पूरे मामले की जांच शुरू की है. बता दें कि दो सप्ताह के बाद काली पूजा और दीपावली का उत्सव है. पूर्वी मेदिनीपुर के इस इलाके में पटाखे और आतिशबाजी बनाई जाती है. पुलिस का अनुमान है कि आतिशबाजी बनाते समय ही यह विस्फोट हुआ है.