बीजेपी कार्यकर्ता खुलेआम गुंडागर्दी कर रहे हैं… दिल्ली जल बोर्ड दफ्तर में तोड़फोड़ का वीडियो शेयर कर आतिशी ने बोला हमला

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में पानी किल्लत को लेकर सियासत तेज हो गई है। बीजेपी और आम आदमी पार्टी (AAP) आमने-सामने हैं। उधर दिल्ली के स्थानीय लोग पानी की किल्लत की वजह से बेहद नाराज हैं। आज दिल्ली के छतरपुर स्थित दिल्ली जल बोर्ड के फीलिंग पॉइंट पर प्रदर्शनकारियों महिलाओं का गुस्सा अचानक फूट गया और उन्होंने दिल्ली जल बोर्ड के दफ्तर पर पथराव करके दरवाजों और खिड़कियों के शीशे तोड़ दिए। तोड़फोड़ की घटना के बार दिल्ली की सियासत उफान पर है। दिल्ली की मंत्री और आप नेता आतिशा ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर एक वीडियो पोस्ट कर बीजेपी को तोड़फोड़ के लिए जिम्मेदार ठहराया है। आतिशी ने वीडियो शेयर कर कहा, दिल्ली जल बोर्ड के छत्तरपुर ऑफिस पर हुए हमले का वीडियो देखिए। साफ- साफ नजर आता है। रमेश बिधूड़ी तोड़फोड़ के समय खुद मौजूद हैं, तोड़फोड़ करने वालों ने भाजपा के पटके पहने हैं, तोड़फोड़ करने वाले नारे लगा रहे हैं, रमेश बिधूड़ी ज़िंदाबाद।’ वह आगे लिखती हैं, ‘यह वीडियो बिल्कुल साफ कर देता है कि भाजपा के कार्यकर्ता दिल्ली में खुलेआम गुंडागर्दी कर रहे है। मैं उम्मीद करती हूं कि वीडियो को संज्ञान में लेकर दिल्ली पुलिस आज ही रमेश बिधूड़ी जी पर FIR करेगी। पानी की पाइपलाइन काटने की हो रही साजिश: आतिशीदिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने आरोप लगाया है कि राष्ट्रीय राजधानी में पाइपलाइन काटने की साजिश हो रही है। आतिशी ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने मुख्य वाटर पाइपलाइन को सुरक्षा देने का आग्रह किया है। पत्र में उन्होंने कहा है कि दिल्ली भीषण गर्मी और जल संकट से जूझ रही है। यमुना में पानी की कमी के कारण जल उत्पादन में लगभग 70 मिलियन गैलन प्रतिदिन की गिरावट आई है। राष्ट्रीय राजधानी के कई हिस्सों में पानी की कमी हो रही है। ऐसे में पानी की एक-एक बूंद कीमती हो जाती है। आतिशी ने कहा कि दिल्ली जल बोर्ड की पेट्रोलिंग टीम को शनिवार को साउथ दिल्ली राइजिंग मेन पाइपलाइन में गढ़ी मेंडू ट्रांसफार्मर के पास बड़ी लीकेज मिली। जांच पर पता चला कि 375 एमएम के 5 बोल्ट और 12 इंच का एक बोल्ट किसी ने काटा था। ऐसा लग रहा है कि दिल्ली में पानी की परेशानी बढ़ाने के लिए षड्यंत्र हो रहा है। इस पाइपलाइन रिपेयर करने में दिल्ली जल बोर्ड को छह घंटे लगे। शाम चार बजे से रात 10 बजे तक रिपेयर चला। इस दौरान साउथ दिल्ली की पानी की आपूर्ति बंद करनी पड़ी। इसका नतीजा है कि तकरीबन 25 प्रतिशत कम पानी आज साउथ दिल्ली पहुंचा। उन्होंने सवाल किया, ‘ये कौन लोग हैं जो दिल्ली की पानी की व्यवस्था बिगाड़ने का षड्यंत्र कर रहे हैं?’ उन्होंने आगे कहा, ‘इस समय कोई भी बेईमानी और तोड़फोड़ दिल्ली के लोगों के सामने पहले से ही मौजूद पानी की कमी को और भी बदतर बना देगी। मैं आपके सहयोग के लिए आपको धन्यवाद देना चाहूंगी।’