पानी बिलों के लिए एकमुश्त समाधान योजना को रोकने की कोशिश कर रही भाजपा : आप

आम आदमी पार्टी (आप) ने पानी के भारी-भरकम बिलों में सुधार के लिए प्रस्तावित एकमुश्त समाधान योजना पर सर्वदलीय बैठक में शामिल नहीं होने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायकों पर निशाना साधा और पार्टी पर लोगों की परेशानियों से खुश होने का आरोप लगाया।पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और दिल्ली के शहरी विकास मंत्री सौरभ भारद्वाज ने यहां संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा बुलाई बैठक का भाजपा ने बहिष्कार किया।
उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा अधिकारियों के माध्यम से इस योजना को रोकने का भरसक प्रयास कर रही है।
इससे पहले भाजपा की दिल्ली इकाई ने एक बयान में कहा था कि पार्टी सर्वदलीय बैठक में शामिल नहीं होगी।
भाजपा ने कहा कि अगर केजरीवाल दिल्ली जल बोर्ड से जुड़ी अनियमितताओं सहित सभी कथित अनियमितताओं पर चर्चा करने के लिए तैयार हैं तो वह बैठक में निश्चित रूप से शामिल होगी।
केजरीवाल ने सर्वदलीय बैठक के दौरान कहा कि बैठक में भाजपा विधायकों की अनुपस्थिति एकमुश्त समाधान योजना के प्रति उनके विरोध का संकेत देती है।
केजरीवाल के मुताबिक, इस योजना का उद्देश्य दिल्ली में लाखों लोगों को राहत प्रदान करना है।
बयान में मुख्यमंत्री के हवाले से कहा गया, हमें दिल्ली के लोगों के सामने भाजपा को बेनकाब करना चाहिए क्योंकि वे बहुत गंदी राजनीति कर रहे हैं। अगर भाजपा के पास कोई सुझाव है, तो हम उन पर विचार करेंगे।
वहीं, भारद्वाज ने दावा किया, दिल्ली सरकार लोगों के लिए यह योजना लाना चाहती है, लेकिन भाजपा इस योजना को रोकने के लिए अधिकारियों के माध्यम से भरसक प्रयास कर रही है।