Biren Singh ने आईआरबी के नए जवानों को सड़क मार्ग से असम भेजने की योजना रद्द की

 मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने कहा कि भारतीय आरक्षित वाहिनी (आईआरबी) के नए जवानों को प्रशिक्षण के लिए सड़क मार्ग से असम भेजने की योजना रद्द कर दी गयी है।
सिंह ने शुक्रवार रात को फेसबुक पर एक पोस्ट में कहा, ‘‘10वीं और 11वीं आईआरबी के नए जवानों को सड़क मार्ग से असम भेजने की योजना रद्द कर दी गयी है। जल्द ही एक वैकल्पिक व्यवस्था की जाएगी।’’
आईआरबी में भर्ती हुए नए जवानों के परिवारों तथा रिश्तेदारों द्वारा कथित तौर पर विरोध किए जाने के बाद यह फैसला लिया गया है। उन्होंने चिंता जतायी थी कि कुकी बहुल क्षेत्रों से होने वाली इस यात्रा से अधिकारियों की सुरक्षा खतरे में पड़ सकती है और उन्होंने मांग की कि प्रशिक्षण इंफाल ईस्ट जिले में ही दिया जाए।
शुक्रवार शाम को इन अधिकारियों के रिश्तेदार इंफाल ईस्ट जिले के पांगेई में मणिपुर पुलिस प्रशिक्षण कॉलेज के मुख्य द्वार के समीप एकत्रित हुए और उन्होंने प्रशिक्षण के लिए सड़क मार्ग से असम ले जाने की योजना का विरोध किया।