Bihar: पटना के स्कूल में मध्याह्न भोजन पकाने के लिए बेंचें जलायी गयीं, जांच के आदेश दिये गये

सोशल मीडिया पर छात्रों के लिए मध्याह्न भोजन पकाने के लिए बेंच जलाए जाने का वीडियो वायरल होने के बाद बिहार की राजधानी पटना के एक सरकारी स्कूल के खिलाफ शिक्षा विभाग ने जांच के आदेश दिए हैं। ये वीडियो पटना जिले के बिहटा प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय का है। वीडियो में रसोइया छात्रों के लिए खाना पकाने के लिए स्कूल की बेंचों को जलाते नजर आ रहे हैं। रसोइयों ने कहा कि उनके पास खाना पकाने के लिए लकड़ी नहीं है और आरोप लगाया कि शिक्षिका सविता कुमारी ने उन्हें बेंच का उपयोग करने के लिए कहा। एक रसोइये ने यह भी दावा किया कि शिक्षिका ने खुद ही वीडियो बनाया जो बाद में वायरल हो गया। इसे भी पढ़ें: Divya Pahuja Murder Case | आरोपी के कबूलनामे के बाद पूर्व मॉडल दिव्या पाहुजा का शव हरियाणा नहर से मिलाहालांकि, सविता कुमारी ने आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि रसोइया उन्हें फंसाने की कोशिश कर रहे हैं। उसने स्कूल के प्रिंसिपल को दोषी ठहराया और दावा किया कि उन्होंने बेंचों को जलाने का आदेश दिया था। आरोप को खारिज करते हुए प्रिंसिपल प्रवीण कुमार रंजन ने कहा कि यह एक “मानवीय भूल” थी। उनके अनुसार, रसोइये पढ़े-लिखे नहीं थे और बहुत ठंड का दिन होने के कारण उन्होंने बेंचें जला दीं। इसे भी पढ़ें: IIT Guwahati के अनुसंधानकर्ताओं ने किया कमाल, जैविक कचरा प्रबंधन की नई तकनीक ईजाद कीरंजन ने कहा, “शिक्षा विभाग के आदेश पर हम मध्याह्न भोजन बनाने के लिए रसोई गैस का उपयोग करते हैं। उस दिन, रसोइयों ने लकड़ी के रूप में बेंच का इस्तेमाल किया क्योंकि बाहर बहुत ठंड थी।” घटना को संज्ञान में लेते हुए प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी निवेश कुमार ने कहा कि वीडियो की जांच की जा रही है और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।