Bihar: Amit Shah का सासाराम दौरा रद्द, हिंसा के बाद लिया गया फैसला, भाजपा बोली- नीतीश से संभल नहीं रहा बिहार

केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह 2 अप्रैल को बिहार दौरे पर जा रहे हैं। हालांकि, 2 अप्रैल को सासाराम में अमित शाह की एक रैली आयोजित थी जिसे अब स्थगित करना पड़ा है। सासाराम में हुए हिंसा के बाद भाजपा ने यह फैसला लिया है। इस बात की जानकारी भाजपा प्रवक्ता संजय मयूख ने दी। अमित शाह पटना और नवादा में अपना कार्यक्रम करेंगे। शनिवार शाम को अमित शाह बिहार पहुंच जाएंगे। सासाराम में अमित शाह सम्राट अशोक की जयंती समारोह में शिरकत करने वाले थे। इस दौरान वह एक जनसभा को भी संबोधित करते। हालांकि, अब इस कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया है। अमित शाह अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही पटना पहुंचेंगे। इसे भी पढ़ें: Gehlot ने अमृतपाल के उदय के लिए भाजपा की हिंदू राष्ट्र की विचारधारा को जिम्मेदार ठहरायादूसरी ओर अमित शाह के सासाराम दौरे को लेकर अब राजनीति भी शुरू हो गई है। बिहार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने साफ तौर पर कहा है कि नीतीश कुमार से बिहार नहीं संभल रहा है। दुर्भाग्य से हमें यह कार्यक्रम रद्द करना पड़ा है। उन्होंने दावा किया कि हमारे लोगों पर बम चल रहे हैं। सम्राट अशोक हमारे आराध्य रहे हैं और हम उनके विचारों को आगे लेकर जाएंगे। फिलहाल, सासाराम में धारा 144 लागू कर दिया गया है। वहीं, जदयू के एमएलसी नीरज कुमार ने कहा कि भाजपा के अंदर हिम्मत नहीं थी इसी कारण सासाराम में कार्यक्रम को रद्द किया गया। उन्होंने कहा कि भाजपा किसानों और नौजवानों के समक्ष क्या मुंह दिखाएंगे। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने सम्राट अशोक के जयंती की के दिन राजकीय दिन घोषित किया है और बीजेपी इसका क्रेडिट ले रही है। बिहार के रोहतास और नालंदा जिले के मुख्यालय क्रमश: सासाराम और बिहार शरीफ में राम नवमी के आयोजन के दौरान उत्पन्न तनाव के मद्देनजर शुक्रवार को दोनों शहरों में निषेधाज्ञा लागू कर दी गई। सासाराम में रविवार को प्रस्तावित एक कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को भी शामिल होना है। वहीं, शुक्रवार दोपहर को सासाराम के सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) मनोज कुमार ने बृहस्पतिवार शाम को हुई झड़पों की पुनावृत्ति को रोकने के लिए धारा-144 (निषेधाज्ञा) लागू कर दी।