UP ATS के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, ISI के लिए जासूसी करने के आरोप में भारतीय कर्मचारी को किया गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश आतंकवाद निरोधक दस्ते के हाथ एक बड़ी कामयाबी लगी है। उन्होंने रविवार को जासूसी के आरोप में विदेश मंत्रालय में काम करने वाले सत्येन्द्र सिवाल को गिरफ्तार किया है। सिवाल पर पाकिस्तानी की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करने आरोप लगा है। यूपी एटीएस ने आरोपी की तस्वीर के साथ एक बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी है। इसे भी पढ़ें: भ्रष्टाचार के बेताज बादशाह हैं केजरीवाल हमेशा जांच से भागते रहते हैं : Shehzad Poonawallaयूपी एटीएस की आधिकारिक जानकारी के अनुसार, उन्हें अपने सूत्रों से एक जासूस के बारे में सूचना मिली थी, जो सक्रिय रूप से भारतीय सेना से संबंधित  महत्वपूर्ण गोपनीय जानकारी ISI के हैंडलर्स को भेज रहा था। सूचना पर कार्रवाई करते हुए यूपी एटीएस ने सतेन्द्र सिवाल को गिरफ्तार किया। सिवाल 2021 से मॉस्को में भारतीय दूतावास में तैनात था। वहां वो आधारित सुरक्षा सहायक (आईबीएसए) के रूप में काम कर रहा था। इसे भी पढ़ें: Palghar में अज्ञात व्यक्ति का शव मिला, पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कियायूपी एटीएस के बयान में आगे बताया गया है कि सतेंद्र को एटीएस फील्ड यूनिट मेरठ पर बुलाकर पूछताछ की गयी। उससे उसके द्वारा भेजी गयी सूचनाओं के संबंध में पूछा गया तो वह संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाया। बाद में, पूछताछ में सतेन्द्र ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। सत्येन्द्र ने पूछताछ के दौरान खुलासा किया कि जानकारी के बदले उसे पैसे दिए जाते थे। वह भारतीय सेना और उसके दिन-प्रतिदिन के कामकाज की जानकारी आईएसआई को भेजा करता था।

Satyendra Siwal working as MTS (Multi-Tasking, Staff) at the Ministry of External Affairs, has been arrested by UP ATS. He is accused of working for ISI. Satyendra was posted at the Indian Embassy in Moscow. He is originally a resident of Hapur: UP ATS pic.twitter.com/BY4ueim0KU— ANI (@ANI) February 4, 2024