सावधान! भूल से भी न करें इस वेबसाइट से जॉब के लिए अप्लाई, सरकार ने चेताया

केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रहे समग्र शिक्षा अभियान की ऑफिशियल वेबसाइट के नाम पर एक फर्जी वेबसाइट ऑपरेट किया जा रहा है. इस नकली वेबसाइट के जरिए लोगों को अलग-अलग पोस्ट पर Sarkari Naukri दिलाने का दावा किया जा रहा है. समग्र शिक्षा की वेबसाइट के नाम पर ये फर्जी वेबसाइट लोगों को गुमराह करने का काम कर रही है. भारत सरकार के प्रेस इंफोर्मेशन ब्यूरो (PIB) ने इसकी जानकारी दी है. PIB ने बताया है कि samagrashiksha.org नाम की एक फर्जी वेबसाइट समग्र शिक्षा अभियान बनकर नौकरी दिलाने का दावा कर रही है.
PIB ने बताया कि इस वेबसाइट का भारत सरकार के साथ कोई लेना-देना नहीं है. सही जानकारी के लिए लोग समग्र शिक्षा अभियान की ऑफिशियल वेबसाइट samagra.education.gov.in पर जा सकते हैं. PIB ने एक ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. साथ ही एक तस्वीर भी शेयर की है.

A #Fake website, ‘https://t.co/jkpggN6Inv’ posing as the official website of the Samagra Shiksha Abhiyan is claiming to provide jobs for various posts.#PIBFactCheck
This website is not associated with the Govt. of India
For authentic info, visit: https://t.co/pCjN1ZGIMW pic.twitter.com/f4e9UuUtUR
— PIB Fact Check (@PIBFactCheck) October 8, 2022

दरअसल, इस फर्जी वेबसाइट पर जाने पर पता चलता है कि यहां पर जॉब वैकेंसी की डिटेल्स दी जा रही हैं. टीचर भर्ती से लेकर आंसर की जैसी जानकारियों को वेबसाइट पर अवेलेबल कराया गया है. वेबसाइट पर लाखों जॉब वैकेंसी होने का दावा किया जा रहा है. ऐसे में लोगों को सावधान किया जाता है कि लोग इस वेबसाइट के जरिए किसी भी तरह की नौकरी के लिए अप्लाई ना करें.
क्या है समग्र शिक्षा अभियान?
दरअसल, केंद्रीय बजट 2018-19 में प्री-नर्सरी से लेकर 12वीं क्लास तक की एजुकेशन को बिना बांटे समग्र रूप से मानने का प्रस्ताव किया गया. इसके तहत समग्र शिक्षा अभियान चलाया गया, जिसका मकसद प्री-स्कूल से लेकर 12वीं क्लास तक की स्कूल एजुकेशन को तैयार किया गया.
इसके जरिए स्कूली शिक्षा के लिए समान अवसरों और समान सीखने के रिजल्ट को सुधारने का लक्ष्य रखा गया. यह सर्व शिक्षा अभियान (एसएसए), राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान (आरएमएसए) और टीचर्स एजुकेशन (टीई) की तीन पूर्ववर्ती योजनाओं से मिला हुआ है.