25 हजार से अधिक भक्तों ने सामूहिक रूप से किया राम रक्षा स्तोत्र का पाठ, बनाया रिकॉर्ड

कार्यक्रम की शुरुआत श्री राम की प्रभुता के गायन से हुई। उसके बाद 13 बार विजय मंत्र का गायन किया गया। साथ ही हनुमान चालीसा का पाठ भी किया गया।