Ayodhya Ram Mandir: आज से आम लोगों की अयोध्या में जाने पर लगी पाबंदी, इन दिन तक रहेगी रोक

अयोध्या के राम मंदिर में भव्य राम मंदिर के गर्भगृह में प्राण प्रतिष्ठा समारोह होने वाला है। इस भव्य कार्यक्रम को लेकर स्थानीय प्रशासन ने सुरक्षा के लिए कई कदम उठाए हैं। राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए राजनीतिक, खेल जगत, फिल्म जगत, उद्योगपतियों समेत कई बड़ी हस्तियों को निमंत्रण भेजा गया है। क्रिकेट जगत से महेंद्र सिंह धोनी, सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, रविचंद्रन अश्विन समेत कई भारतीय क्रिकेटर्स को प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए आमंत्रण मिला है।प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के मद्देनजर सुरक्षा के भी चाकचौबंद इंतजाम किए जा चुके है। प्राण प्रतिष्‍ठा समारोह और उसके बाद के लिए पार्किंग और यातायात प्रबंधन की बेहतर कार्ययोजना बनाएं तथा मार्ग परिवर्तन के बारे में व्यापक प्रचार प्रसार किया जा रहा है। अयोध्या पहुंकर भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्थानीय प्रशासन के साथ तैयारियों का स्थलीय निरीक्षण किया और समीक्षा बैठक में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है। उन्होंने स्थानीय प्रशासन-पुलिस के अधिकारियों को चुस्त-दुरुस्त व्यवस्था रखने का निर्देश दिया।इसी बीच जिला प्रशासन ने भारी वाहनों को अयोध्या में जाने पर रोक लगाई गई है। अयोध्या में भारी वाहनों की एंट्री पर लगाई गई रोक 23 जनवरी तक जारी रहेगी। वाहनों को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की ओर डायवर्ट किया गया है। जानकारी के मुताबिक अयोध्या की सीमा से होकर जाने वाले सभी वाहनों पर भी 21 जनवरी से रोक लगाई जाएगी। इस संबंध में सभी जरुरी दिशानिर्देश जारी हो चुके है।पुलिस ने अयोध्या को जाने वाले भारी वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित किया गया है। सिर्फ आवश्यक सेवाओं से जुड़े वाहनों को ही एंट्री मिलेगी। सभी वाहनों की गहन चैकिंग की जा रही है। चैकिंग होने के बाद ही वाहनों को आगे जाने की अनुमति मिल रही है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर यातायात पर कोई रोक नहीं लगी है। गौरतलब है कि राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में अतिथियों का अयोध्या पहुंचना शुरू हो गया है। सुरक्षा कारणों की वजह से अब अयोध्या नगरी में आम लोगों के प्रवेश पर रोक लगाई गई है। अयोध्या में सिर्फ उन लोगों को ही एंट्री मिलेगी जिनके पास प्राण प्रतिष्ठा में शामिल होने का निमंत्रण पत्र होगा। स्थानीय निवासियों को भी पहचान पत्र दिए गए है, जिससे उन्हें भी परेशानी ना हो।