टी20 वर्ल्ड कप में हो जाता एक और बड़ा उलटफेर, साउथ अफ्रीका से सिर्फ 1 रन से हारा नेपाल

किंग्स्टन: आज जो चमत्कार देखने को मिला उसकी कल्पना शायद किसी ने टी20 वर्ल्ड कप शुरू होने से पहले किसी ने नहीं की होगी। नेपाल जो एक एसोसिएट नेशन है। वो साउथ अफ्रीका को वर्ल्ड कप में हराने से सिर्फ 1 रन से चूक गई। आज सिर्फ नेपाल की नहीं बल्कि क्रिकेट की जीत हुई। भले ही साउथ अफ्रीका ने मैदान मार लिया। लेकिन नेपाल ने जिस तरह से क्रिकेट खेला, उन्होंने सबका दिल जीत लिया।नेपाल ने पहले टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। ऐसे में उन्होंने साउथ अफ्रीका को सिर्फ 115 रन पर रोका। इसके बाद 116 रन का टारगेट चेज करने से सिर्फ नेपाल 1 रन से चूक गई और 20 ओवर में 6 विकेट पर 114 रन ही बना पाई। इस साल वर्ल्ड कप में यह तीसरा बड़ा उलटफेर होने जा रहा था। इससे पहले अमेरिका ने पाकिस्तान को और अफगानिस्तान ने न्यूजीलैंड को हराया था।नेपाल ने निकाला साउथ अफ्रीका का दमनेपाल ने पहले गेंदबाजी करते हुए साउथ अफ्रीका की कमर तोड़ी। खतरनाक बैटिंग युनिट वाली साउथ अफ्रीका टीम नेपाल के गेंदबाजों के सामने ढेर हो गई। वह निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट पर महज 115 रन ही बना पाए। नेपाल की ओर से सबसे ज्यादा 4 विकेट कुशल भुर्तेल ने लिए। वहीं दीपेंद्र सिंग ऐरी को भी 3 सफलता मिली। साउथ अफ्रीका की तरफ से सर्वाधिक 43 रन रीजा हैंड्रिक्स ने बनाए। वहीं ट्रिस्टन स्टब्स ने भी नाबाद 27 रन की अच्छी पारी खेली।सिर्फ 1 रन से हारा नेपालनेपाल ने अपनी बल्लेबाजी का आगाज बड़ी समझदारी के साथ किया था। वह संभल-संभलकर अपनी पारी को आगे बढ़ा रहे थे। एक समय लग रहा था कि नेपाल ने इतिहास रच दिया है। वह साउथ अफ्रीका को आसानी के साथ हरा देंगे। लेकिन उसके बाद एक के बाद एक विकेट गिरी और नेपाल की टीम प्रेशर में आ गई। 85 पर नेपाल का तीसरा विकेट गिरा था। इसके बाद 15 रन बनाने में उनके 3 विकेट और गिर गए।आखिरी ओवर में चाहिए थे 8 रनआखिरी ओवर में जीत के लिए नेपाल को 8 रन की जरूरत थी। साउथ अफ्रीका की तरफ से यह ओवर ओटनील बार्टमेन डाल रहे थे। इस ओवर में शुरुआती 5 गेंद पर स्ट्राइक पर रहे गुलशन झा ने 6 रन बना लिए थे। आखिरी बॉल पर वह बीट हुए। लेकिन इसके बावजूद उन्होंने सिंगल लेने की कोशिश की। वह लगभग क्रीज में पहुंच भी गए थे। लेकिन बल्ले को समय से नीचे नहीं ला पाए और रन आउट हो गए। ऐसे में नेपाल सिर्फ 1 रन से मैच हार गया।