Amritpal ने वीडियो जारी कर सिखों से की एकजुट होने की अपील, बोला- सरकार की मंशा सिर्फ गिरफ्तारी तक सीमित नहीं

खालिस्तानी अलगाववादी अमृतपाल सिंह अभी तक गिरफ्तारी से बचने में कामयाब रहा है। वह अब पुलिस की कार्रवाई से बचने के लिए नए-एन दांव खेल रहा है। पुलिस की बढ़ती दबिश के बीच अमृतपाल सिंह कैमरे के सामने आए, सिखों से एकजुट होने की अपील की है। खालिस्तान समर्थक भगोड़े उपदेशक अमृतपाल सिंह के पंजाब में देखे जाने की खबरों के बीच वारिस पंजाब डी प्रमुख ने बुधवार को एक लाइव वीडियो जारी कर कहा कि उनके खिलाफ सरकार की कार्रवाई उनकी गिरफ्तारी नहीं बल्कि सिख समुदाय पर हमला है। आगे उसने कहा कि अगर सरकार उन्हें गिरफ्तार करना चाहती तो घर से ही गिरफ्तार कर सकती थी। यह कहते हुए कि कोई उन्हें नुकसान नहीं पहुंचा सकता, अमृतपाल ने कहा कि उन्हें गिरफ्तार होने का डर नहीं है।इसे भी पढ़ें: Amritpal Singh Arrest: कस्टडी में न की जाए पिटाई, पंजाब की जेल में रखा जाए, अमृतपाल सिंह ने पुलिस के सामने रखी ये 3 शर्तेंउसने आगे कहा कि उन्होंने अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह से अनुरोध किया है कि बैशाखी के अवसर पर तलवंडी साबो में सरबत खालसा (बैठक) आयोजित करें ताकि “लोगों के मन में सरकार द्वारा पैदा किए गए डर को दूर किया जा सके। हालांकि अमृतपाल ने अलग राज्य या खालिस्तान का कोई जिक्र नहीं किया। इससे पहले दिन में पुलिस सूत्रों ने बताया था कि अमृतपाल उत्तराखंड से राज्य लौटा है और रोपड़ में आनंदपुर साहिब गया है। पुलिस ने एक वाहन भी बरामद किया है, जिस पर वारिस पंजाब डी प्रमुख द्वारा इस्तेमाल किए जाने का संदेह है।