राष्ट्रपति भवन का Amrit Udyan शुक्रवार से खुलेगा, 255 साल पुराना शीशम का पेड़ होगा मुख्य आकर्षण का केंद्र

नयी दिल्ली। राष्ट्रपति भवन का प्रसिद्ध अमृत उद्यान शुक्रवार से आम जनता के लिए खुल जाएगा, जिसमें इस वर्ष के प्रमुख आकर्षणों में 225 वर्ष पुराना शीशम का पेड़, एक पुष्प घड़ी और एक ‘सेल्फी प्वाइंट शामिल है। राष्ट्रपति की उप प्रेस सचिव नविका गुप्ता ने बुधवार को कहा, राष्ट्रपति भवन देखने के लिए बुकिंग पहले ही शुरू हो चुकी है। अमृत उद्यान देखने के लिए 50,000 से अधिक लोगों ने बुकिंग कराई है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू बृहस्पतिवार को अमृत उद्यान में उद्यान उत्सव 2024 का उद्घाटन करेंगी। गुप्ता ने बताया कि आगंतुकों की सुविधा के लिए केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन से मुफ्त बस सेवा का भी प्रावधान है। अधिकारियों ने बताया कि पहली बार, अमृत उद्यान में आने वाले आगंतुकों के लिए ट्यूलिप का एक थीम गार्डन भी विकसित किया गया है। पर्यटक डबल डिलाइट , सेंटीमेंटल और कृष्णा नाम के गुलाबों की विशेष किस्में भी देख सकेंगे। उद्यान के प्रभारी अवनीश बंसवाल ने बताया कि इस साल के मुख्य आकर्षणों में से 225 साल पुराना शीशम का पेड़ और एक अनोखा अमृत उद्यान लोगो’ है, जो एक सेल्फी प्वाइंट के रूप में भी काम करेगा। उन्होंने बताया, ‘‘इसके अलावा, 200 साल से अधिक पुराने पिलखन पेड़ के पास एक पुष्प घड़ी और एक छात्र गतिविधि क्षेत्र भी प्रमुख आकर्षणों में से हैं। अधिकारियों ने कहा कि आगंतुकों के लिए जलपान की सुविधा के लिए एक फूड कोर्ट भी स्थापित किया गया है।  इसे भी पढ़ें: Maharashtra: पालघर के पार्किंग क्षेत्र में आग लगने से छह ट्रकों को पंहुचा नुकसानउन्होंने बताया कि अमृत ​​उद्यान दो फरवरी से 31 मार्च तक सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक जनता के लिए खुला रहेगा। शाम चार बजे के बाद आगंतुकों को प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। आंगतुक नॉर्थ एवेन्यू रोड के पास राष्ट्रपति भवन के गेट नंबर 35 से उद्यान में प्रवेश कर सकते हैं। अमृत उद्यान रखरखाव कार्य के लिए सोमवार को छोड़कर सप्ताह में छह दिन खुला रहेगा। इसके लिए बुकिंग राष्ट्रपति भवन की वेबसाइट से की जा सकती है। वहीं गेट नंबर 35 के पास भी बुथ बने होंगे, जिसके सहयोग से उद्यान में प्रवेश के लिए आवश्यक पास प्राप्त किये जा सकते हैं।