बहस के बाद लड़के ने बीच सड़क की थी लड़की की पिटाई, मंगोल पुरी वायरल वीडियो मामले में दोनों ने बताई वजह

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में झगड़ा करते दिख रहे एक पुरुष और महिला का बयान दर्ज किया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी। वीडियो में एक व्यक्ति एक महिला को पीटता और उसे कार में बैठने के लिए मजबूर करता दिख रहा है।

पुलिस ने बताया कि घटना शनिवार रात करीब पौने दस बजे बाहरी दिल्ली के मंगोलपुरी फ्लाईओवर के पास हुई। उन्होंने बताया कि कार के पहली बार गुरुग्राम में होने की जानकारी मिली। पुलिस ने बताया कि वीडियो में दिख रही कार हरियाणा में पंजीकृत है। कार गुरुग्राम के रतन विहार इलाके की है, जहां घटना के संबंध में पुलिस की एक टीम भेजी गई थी।कार के नंबर से मालिक तक पहुंची पुलिस उन्होंने बताया कि वाहन और उसके चालक की जानकारी भी एकत्र कर ली गई है।

पुलिस उपायुक्त (बाहरी) हरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि घटना की सूचना मिलने के बाद भारतीय दंड संहिता की धारा- 365 (अपहरण) के तहत प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू की गई। उन्होंने बताया कि कार रजिस्ट्रेशन संख्या के आधार पर वाहन के मालिक का पता लगाया गया, जिसका नाम दीपक है और वह गुरुग्राम का रहने वाला है, जहां पर कई टीम भेजी गई। पुलिस ने बताया कि जब उसकी टीम दीपक के आवास पर पहुंची तो जानकारी मिली कि उसने कार लखन को बेच दी है और लखन ने भी वह कार विनोद को बेच दी थी।

उन्होंने बताया कि विनोद ने भी कार हरीश को बेच दी थी और हरीश ने भी कार शैलेंद्र को बेची थी और मौजूदा समय में शैलेंद्र ही कार का मालिक है। पुलिस अधिकारी ने बताया, कैब चालक शैलेंद्र से आज सुबह पूछताछ की गई तो उसने बताया कि शनिवार सुबह एक लड़की और उसके दो पुरुष मित्रों ने रोहिणी से विकासपुरी के लिए कार की बुकिंग की थी। आधिकारी ने बताया कि शैलेंद्र ने बताया, मंगोलपुरी ट्रैफिक सिग्नल पर किसी बात को लेकर लड़की और उसके दोस्त में बहस हो गई, जिसके बाद लड़की कार से नीचे उतर गई।

इसके तुरंत बाद उसका पुरुष मित्र भी कार से नीचे उतरा और मारपीट करते हुए उसे कार में धकेलने लगा, जैसा कि वीडियो में दिखाई दे रहा है।’पेटीएम से की थी पेमेंट तो मिली डिटेल उन्होंने बताया कि पेटीएम के माध्यम से किए गए भुगतान और वाहन की बुकिंग के विवरण के जरिये महिला और उसके एक मित्र के मोबाइल फोन नंबर की जानकारी प्राप्त की गई।

उन्होंने बताया, ‘जांच के दौरान दोनों ने बताया कि कुछ निजी बातों को लेकर उनकी बहस हो गई, जिसके बाद वह कार से उतर गई और पुरुष ने उसे जबरन कार में धकेला।’ डीसीपी ने बताया कि बयान दर्ज किया गया है। महिला का बयान काउंसलर के साथ दर्ज किया गया और मेडिकल सपोर्ट दिया गया। अकाउंटेंट का काम करती है लड़की उन्होंने बताया कि महिला अकाउंटेंट के तौर पर काम करती है, जबकि उसके पुरुष साथी की आटे की मिल है।

इस बीच, दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने वीडियो का संज्ञान लिया और दोनों व्यक्तियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया। मालीवाल ने ट्वीट में कहा, मैं दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर रही हूं। आयोग इन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित करेगा।