41 साल के धोनी का बाहुबल, पूरी ताकत से आखिरी ओवर में स्टैंड्स में पहुंचाया छक्का

अहमदाबाद: महेंद्र सिंह धोनी भले ही एक्टिव क्रिकेट से दूर हो। साल में सिर्फ दो महीने आईपीएल में ही क्रिकेट खेलते हो। उम्र भी 41 साल पार हो चुकी हो, बावजूद इसके वह आज भी युवा गेंदबाजों पर भारी हैं। इसका नमूना थाला ने आईपीएल 2023 के ओपनिंग मुकाबले में गुजरात टाइटंस के खिलाफ दिखाया। जब टॉस गंवाकर उनकी टीम पहले बैटिंग कर रही थी। रुतुराज गायकवाड़ के आउट होते ही रन रफ्तार कम हो चुकी थी, तब पहली पारी के आखिरी ओवर में उन्होंने युवा पेसर जोशुआ लिटिल को करारा छक्का मारा। रडार पर आई लैंथ बॉल को माही ने पहले ही भापते हुए स्क्वैयर लेग के ऊपर से जोरदार सिक्स के लिए भेजा। सीएसके के कप्तान यहीं नहीं रूके अगली गेंद पर चौका मारकर स्कोर निर्धारित 20 ओवर में 178/7 तक पहुंचाया और सात गेंद में 14 रन बनाकर नाबाद लौटे।CSK के लिए छक्के का दोहरा शतकइसी के साथ चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए छक्कों का दोहरा शतक बनाने वाले महेंद्र सिंह धोनी एकमात्र प्लेयर हो गए, उनके पीछे चिन्ना थाला के नाम से मशहूर सुरेश रैना है, जिन्होंने 180 सिक्स उड़ाए। तीसरे नंबर पर फाफ डुप्लेसिस हैं, जिन्होंने 87 बार गेंद हवाई यात्रा में भेजी। इससे पहले टॉस के दौरान नए रूल इंपेक्ट प्लेयर को उन्होंने फायदेमंद बताया था। माही का तर्क था कि इससे फैसले करने की प्रक्रिया आसान हो जाती है। धोनी ने टॉस के दौरान कहा, ‘यह काफी फायदेमंद है। फैसला करना थोड़ा आसान हो जाता है क्योंकि आप उसका इस्तेमाल कभी भी कर सकते हैं।’ धोनी को हालांकि लगता है कि इस नियम से टीम में ऑलराउंडर की भूमिका कम हो जाएगी। उन्होंने कहा, ‘इस नियम के कारण ऑलराउंडर का प्रभाव थोड़ा कम हो जाएगा।’ धोनी के अलावा ओपनर रुतुराज गायकवाड़ ने जबरदस्त अर्धशतक जड़ा और 50 गेंद में नौ छक्कों और चार चौकों से 92 रन की पारी खेली, लेकिन उनके अलावा सिर्फ मोईन अली (23) ही 20 रन के आंकड़े को पार कर पाए। गुजरात की ओर से लेग स्पिनर राशिद खान ने 26, मोहम्मद शमी ने 29 जबकि अल्जारी जोसेफ ने 33 रन देकर दो-दो विकेट चटकाए। मैच की बात करें तो 179 रन के लक्ष्य के जवाब में गुजरात टाइटंस ने चार गेंद पहले पांच विकेट से ओपनिंग मुकाबला अपने नाम किया।